जाने रक्षाबंधन बनाने के पीछे का राज || होश उड़ जायेंगे आपके

जाने रक्षाबंधन बनाने के पीछे का राज || होश उड़ जायेंगे आपके


दोस्तों रक्षाबन्धन 2 दिनों में आना वाला है रक्षाबन्धन एक ऐसा त्योहार है जिस दिन बेहेन अपने भाइयों को राखी बांधती है और भाई अपनी बेहेन को एकवचन देता है, कि में तुम्हारी जिन्दगी भर रक्षा करूँगा 

रक्षा बंधन क्यों बनाया जाता है 

रक्षाबन्धन इसलिए बनाया जाता है क्योंकि उस दिन श्री कृष्ण की बुआ शिशुपाल उनका पुतशशिपाल शुद्ध देव का पुत्र राक्षक पैदा होता है 

जैसें चार हाथ, तीन पैर, तीन आँख होती हे शुध्द देवी श्री कृष्ण भगवान से कहती हे की मेरा पुत्र ऐसा पैदा क्यों हुआ है श्री कृष्ण भगवान कहते है 

कि ये तुम्हारे पुत्र के पीछले जन्म का पाप है, जो उसे इस जन्म मे भुगतना पढ़ रहा है। शुद्ध देवी भगवान

श्री कृष्ण से कहती हे की मेरी पुत्र की मृत्यू कैसे होगी श्री कृष्ण कहते है कि तुम्हारे पुत्र की मृत्यु मेरे हाथों से होंगी

फिर उनकी माता कहती है की कृष्णा तुम मेरे पुत्र को वरदान दो की तुम उससे नहीं मरोगे मे उसे आशीर्वाद नहीं दे सकता किन्तु मे उसे

100 गलती माफ़ करने का आशीर्वाद दे सकता हु | युधिष्ठिर का राज तिलक होता है सारे राजा मंहाराजा आये थे कृष्णा जी भी आये थे शिशुपाल भी आये थे शिशु पाल भी एक देश के राजा बन गए थे

राज तिलक के बाद शिशुपाल कृष्णा से विवाद होने लगा धीरे धीरे कृष्णा का अपमान करने लगे

कृष्णा के बड़े भाई शिशुपाल पर क्रोध करने लगे धीरे दजूरे शिशुपाल की 100 गलती हो गयी कृष्णा जी शुद्धरासन चकरा से शिशु पाल का सर अपने शरीर से अलग कर दिया

फिर चकरा उनके पास वापस आया कृष्णा जी की ऊँगली कट गयी फिर सभी लोग चिन्दी ढूंढ़ने लगे तभी द्रोपती ने अपने चिन्दी फाड़ कर कृष्णा के ऊँगली पर बांध दिया

जाने रक्षाबंधन बनाने के पीछे का राज || होश उड़ जायेंगे आपके


और कृष्णा जी ने उसे होनी बहन मान लिया और वरदान दिया की यह दिन रक्षाबंधन के नाम से जाना जायेगा हर भाई अपनी बहन की रक्षा करेगा

फिर आप जानते हो की द्रोपती चिर हरण के समय कृष्णा ने उनकी रक्षा की थी 




Post a Comment

और नया पुराने